पंचांग


 


16 जून 2020 दिन- मंगलवार का पंचाग*
*सूर्योदयः-* प्रातः 05:08:09
*सूर्यास्तः-* सायं 06:49:43
*विशेषः-* मंगलवार के दिन बजरंगबली की पूजा का विशेष महत्व है।
*विक्रम संवतः-* 2077
*शक संवतः-* 1942
*आयनः-* उत्तरायण
*ऋतुः-* ग्रीष्म ऋतु
*मासः-* अषाढ़ा माह
*पक्षः-* कृष्ण पक्ष
*तिथिः-* एकादशी 26:06:52 तक तदोपरान्त द्वादशी तिथि
*तिथि स्वामीः-* एकादशी तिथि के स्वामी विश्वदेव जी हैं तथा द्वादशी तिथि के स्वामी भगवान विष्णु जी हैं।
*नक्षत्रः-* अश्विन 30:04:24 तक तदोपरान्त भरणी नक्षत्र
*नक्षत्र स्वामीः-* अश्विन नक्षत्र के स्वामी केतु देव हैं तथा भरणी नक्षत्र के स्वामी शुक्र देव जी हैं।
*योगः-* शोभन 13:40:41 तक तदोपरान्त अतिगंड
*दिशाशूलः-* आज के दिन उत्तर दिशा की यात्रा नहीं करना चाहिए यदि यात्रा करना ज्यादा आवश्यक हो तो घर से गुड़ खाकर जायें।
*गुलिक कालः-* शुभ गुलिक काल 12:07:00 से 01:50:00 बजे तक।
*राहुकालः-* राहुकाल 03:34:00 से 0.5:18:00 बजे तक।
*तिथि का महत्वः-*  एकादशी तिथि में चावल एवं सेम नहीं खाना चाहिए यह तिथि उपवास, धार्मिक कृत्य उद्यापन तथा कथा एकादशी में शुभ है।
*“हे तिथि स्वामी, दिन स्वामी, योग स्वामी, नक्षत्र स्वामी आप पंचांग का पाठन करने वालों पर अपनी कृपा दृष्टि बनाये रखना।”*


 


*Astrologer Dr. Trilokinath*
*1- Shivani Plaza, Kapoorthala, Aliganj, Lucknow 10 A.M to 02 PM*
*2- 40 Jeevan Plaza Vipul Khand Gomti Nagar lucknow 04 P.M to 07:30 P.M*
*Mob. - 9454112513 / 9335763882 / 7007734801


Popular posts
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image
वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों में अब तक हुआ 5 लाख से ज्यादा लोगों का आधार नामांकन व संशोधन : पीएमजी केके यादव
Image
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की पूर्व संध्या पर साइनटेनमेन्ट शो
Image