नटवाडीह किला समाज की धरोहर है इसे नुकसान पहुंचाने वाले को बख्शा नहीं जाएगा : सांसद कौशल किशोर


लखनऊ। मोहनलालगंज के सांसद कौशल किशोर ने लखनऊ में बिजनौर के पास नटवाडीह टीला पर पहुंचकर निरीक्षण किया जहां पर उन्हें कई सारी अनियमितताएं मिली अनियमितताओं पर नाराजगी जताते हुए उन्होंने संबंधित अधिकारियों को तलब कर उनसे निर्माण कार्य को निरस्त कराया। उन्होंने बताया कि नटवाडीह का किला जो कि पासी समाज की धरोहर ही नहीं बल्कि यह राष्ट्रीय संपत्ति है और पुरातत्व विभाग के सरंक्षण में है। इसके चारों तरफ किले को संरक्षित करने के लिए पिलर भी लगाए गए हैं लेकिन लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा पुरातत्व विभाग को गुमराह करके सड़क बनाने के लिए एक एनओसी ली गई,  इस सड़क की कोई जरूरत नहीं थी।


किले को खोदते हुए करीब 6 से 8 फीट तक के टीले की मिट्टी को गायब कर दिया गया जो सड़क बनाने वाली फर्म है उसने एनओसी के विरुद्ध काम किया है और राष्ट्रीय संपत्ति नटवाडीह के किले को खोदकर बहुत बड़ा अपराध किया इस संबंध में आज पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर एवं उनके कुछ अधिकारी एलडीए अधिशासी अभियंता, सरोजनी नगर तहसील के कानूनगो सहित सांसद कौशल किशोर, हैदरगढ़ के विधायक बैजनाथ रावत, कौशल किशोर यूथ ब्रिगेड  कार्यकर्ता व राष्ट्रीय पासी महासंघ के अध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद रावत, प्रवीण अवस्थी सहित सैकड़ों की संख्या में सभी समाज के लोग इकट्ठा हुए और नटवाडीह टीले की मिट्टी को जो खोदा गया है, उसको देखकर आक्रोशित लोगों ने इसका विरोध दर्ज कराया। जिसमें पुरातत्व विभाग के डायरेक्टर ने एन ओ सी को रद्द करने का निर्णय लिया और काम पर रोक लगा दी।


एलडीए अधिशासी अभियंता ने बताया जो फार्म काम करा रही थी उस फर्म को ब्लैक लिस्टेड किया जाएगा और सीमांकन करने के लिए पुरातत्व विभाग एक  प्रार्थना पत्र कल सरोजनी नगर तहसील में देगा जो सभी समाजके लोगों की उपस्थिति में इसका सीमांकन होगा जिन लोगों ने टीले को पर अतिक्रमण किया है उनके खिलाफ कार्रवाई करके अतिक्रमण हटाने का काम किया जाएगा यह सारी बातें सबके सामने अधिकारियों  ने घोषणा  की।  कोई भी व्यक्ति किला या टीला जो पुरातत्व विभाग के अंदर में है सरकारी संपत्ति है उसको उसका नुकसान कोई भी नहीं कर सकता और जो भी करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।


सांसद कौशल किशोर ने कहा किले की मिट्टी को जो भी खोदने की कोशिश करेगाऔर जो लोग भी दोषी हैं उनके खिलाफ कार्रवाई होगी और दोषी लोगों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा कर उन्हें जेल भिजवाने का काम किया जाएगा। सांसद कौशल किशोर ने सभी समाज के लोगों से अपील की कि है जो भी हमारी राष्ट्रीय धरोहर है जो पुरातत्व विभाग के अंदर में पूरी तरीके से सुरक्षित है  इस संपत्ति को जो भी नुकसान पहुंचा रहे हैं वह राष्ट्रीय संपत्ति विरोधी तत्व हैं ऐसे तत्वों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई कराई जाएगी।


Popular posts
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
इण्डो-नेपाल बार्डर मार्ग निर्माण परियोजना के अंतर्गत भूमि अध्याप्ती को 15 करोड़ रू. आवंटित
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
पूर्वांचल विकास निधि से मिर्जापुर व बलिया के 4 मार्गों के निर्माण को धनराशि आवंटित
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image