ग्रामीण भारत को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में ऐतिहासिक कदम - स्वतंत्र देव सिंह


 


लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी एवं केन्द्रीय कैबिनेट के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि केंद्रीय कैबिनेट ने आवश्यक वस्तु अधिनियम में संशोधन कर किसान या यूं कहें ग्रामीण भारत के विकास का नया रास्ता खोल दिया है। यह एक ऐतिहासिक और क्रांतिकारी कदम है इससे स्टॉक सीमा का भय समाप्त होगा और खरीददार, व्यापारी या प्रसंस्करण करने वाली इकाई किसानों से अधिक से अधिक उनके उत्पाद बिना भय के खरीद सकेंगे। इस कदम से स्वतंत्र बाजार की अवधारणा को मजबूती मिलेगी और उत्पादक प्रसंस्करण कर्ता तथा उपभोक्ता निर्भय और निर्भीक होकर काम कर सकेंगे।


             पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि इस संशोधन से किसान अपनी उपज बिना किसी बाधा के एक राज्य से दूसरे राज्य या फिर राज्य के भीतर ही दूसरे जिले या स्थानों पर लाभकारी मूल्य पर बेच सकेंगे। सबसे बड़ी बात यह है कि सरकार ने आपात स्थितियों के लिए  अर्थात अकाल या युद्ध आदि के दौरान कोई विषम परिस्थिति न पैदा हो इसके लिए अपने विशेषाधिकार सुरक्षित रखे हैं ताकि किसी भी दशा में उत्पादक से लेकर थोक व खुदरा विक्रेता अथवा प्रोसेसर समूह एवं उपभोक्ता में से किसी को भी नुकसान ना हो।


Popular posts
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
इण्डो-नेपाल बार्डर मार्ग निर्माण परियोजना के अंतर्गत भूमि अध्याप्ती को 15 करोड़ रू. आवंटित
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
पूर्वांचल विकास निधि से मिर्जापुर व बलिया के 4 मार्गों के निर्माण को धनराशि आवंटित
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image