मुख्यमंत्री योगी ने करवाया गरीब किसान रामसेवक का इलाज, परिजन बोले- धन्यवाद योगी जी

 



 


- योगी सरकार ने पहुंचाई बीमार किसान को राहत, मामले का संज्ञान लेते हुए तुरंत की सहायता


- आयुष्मान योजना के तहत करवाया बीमार किसान का इलाज आगे भी रहेगा जारी


- अस्पताल ले जाने के लिए तैनात रहेगी एम्बुलेंस, परिवार को भरण पोषण भत्ता और खाद्यान्न पैकेट भी प्रदान किया


लखनऊ। प्रदेश में हर जरुरतमंद को खाद्यान्न मिल सके इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार कार्य कर रहे हैं। हर गरीब को खाद्यान्न व भोजन उपलब्ध हो सके यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकता में रहा है। गुरुवार को मुख्यमंत्री के निर्देश पर निगोहां के गरीब किसान रामसेवक को प्रशासन ने भरण पोषण भत्ता और खाद्यान्न उपलब्ध कराया है। यही नहीं बीमार किसान के इलाज का जिम्मा भी सरकार ने खुद ही उठा लिया है। ऐसे में सरकार की मदद पाकर रामसेवक के परिवार वालों ने मुख्यमंत्री योगी को धन्यवाद कहा है।


दरअसल निगोहां के भगवानपुर के किसान रामसेवक का पीजीआई में इलाज चल रहा है और अबतक उनकी दो बेटियां आशा (14 साल) और रानी (12 साल) रिक्शा ट्रॉली से हर चौथे दिन उनको अस्पताल ले जाया करतीं थीं। ग़रीबी के चलते परिवार की आर्थिक स्थिति इस कोरोनाकाल में और भी बिगड़ गई। क्योंकि पिता बीमार थे तो खेत पर बेटियों को ही काम करना पड़ रह था। कुल मिलाकर पूरा परिवार बड़े संकट में जीवन जी रहा था।


रामसेवक और उसके परिवार की परेशानियों के बारे में जैसे ही की मालूम पड़ा, तुरंत प्रशासन हरकत में आ गया। मामले का संज्ञान लेते हुए एम्बुलेंस की व्यवस्था करवाई गई जो रामसेवक को हर चौथे दिन अस्पताल लेकर जायेगी। इसके साथ ही रामसेवक को आर्थिक मदद भी उपलब्ध करवाई गई, जिससे इलाज सुगमता से हो सके। मदद का सिलसिला यहीं नहीं रुका, अस्पताल को निर्देश दिए गए की आयुष्मान कार्ड के माध्यम से इनका इलाज किया जाए, जिससे मरीज को डायलिसिस करवाने में कोई समस्या न आये।


मोहनलालगंज एसडीएम पल्लवी मिश्रा ने भी मामले कि गंभीरता समझते हुए स्वयं किसान के घर जाकर सबको मास्क बांटे और ये भी सुनिश्चित किया की परिवार को खाद्यान्न की कोई कमी न हो। मदद मिलने के बाद परिवार के लोग बहुत खुश हैं, उनका कहना है की उन्हें उम्मीद नहीं थी की सरकार इस तरह से हम जैसे गरीबों का भी ध्यान रखेगी। रामसेवक सहित दोनों बेटियों ने हाथ जोड़कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का धन्यवाद दिया है।


Popular posts
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image
वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों में अब तक हुआ 5 लाख से ज्यादा लोगों का आधार नामांकन व संशोधन : पीएमजी केके यादव
Image
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की पूर्व संध्या पर साइनटेनमेन्ट शो
Image