परिवहन निगम के टोल फ्री नम्बर, व्हाटसएप एवं ट्विटर पर होगी शिकायत दर्ज
लखनऊ। उप्र राज्य सड़क परिवहन निगम के प्रबन्ध निदेशक डा. राज शेखर ने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से परिवहन निगम के संचालित ढ़ाबा से सम्बन्धित मिलने वाली शिकायतों के त्वरित निस्तारण हेतु समस्त क्षेत्रीय प्रबन्धकों को आवश्यक निर्देश दिए हैं। साथ ही क्षेत्रीय प्रबन्धकों को अपने क्षेत्र में परिवहन निगम में अनुबंधित यात्री प्लाजा का प्रत्येक माह निरीक्षण करने तथा यात्री प्लाजा के खानपान की व्यवस्था अनुबंध की शर्तो के अनुसार कराने के भी निर्देश दिए गये हैं।

प्रबंध निदेशक ने बताया कि मार्ग पर पड़ने वाले अनाधिकृत ढाबें की निरन्तर चेकिंग करायी जायेगी। निरीक्षणकर्ताओं द्वारा यात्री प्लाजा की सफाई-व्यवस्था, बेचे जा रहे खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता का निरीक्षण भी कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि निगम के बस क्रू द्वारा अनाधिकृत ढाबों पर बसें न रोकी जाये इसके लिए प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये गये हैं। परिवहन निगम में अनुबंधित यात्री प्लाजा के निरीक्षण उपरान्त पायी गयी कमियों एवं यात्री सुविधायें उपलब्ध न होने पर यात्री प्लाजा के मालिको को कारण बताओं नोटिस जारी किया जायेगा। उन्होंने बताया कारण बताओं नोटिस निर्गत करने के 15 दिवस के उपरान्त पुनः संबंधित यात्री प्लाजा का निरीक्षण कराया जायेगा। निरीक्षण में कमियाॅ पाये जाने पर नियमानुसार यात्री प्लाजा के अनुबंध निरस्तीकरण की कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।

डा. राजशेखर ने बताया कि परिवहन निगम की बसों ''मील आन रोड'' ऐप के माध्यम से निगम द्वारा अधिकृत ढाबों पर बस ठहराव सुनिश्चित कर यात्रियों को प्री-आर्डर भोजन सुविधा उपलब्ध कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने बताया कि क्षेत्रीय प्रबन्धकों द्वारा अनुबंधित यात्री प्लाजों के निरीक्षण की रिपोर्ट 10 दिसम्बर तक निर्धारित प्रारूप में मुख्यालय प्रेषित किया जायेगा। उसके उपरान्त थर्ड पार्टी के माध्यम से भी प्रत्येक तीन माह में निरीक्षण कराया जायेगा। निरीक्षण के दौरान यदि कोई कमी आदि पायी जाती है, तो संबंधित क्षेत्रीय प्रबन्धक के विरूद्ध कठोरत्म अनुशासनिक कार्यवाही की जायेगी।

प्रबंध निदेशक ने बताया कि यात्री परिवहन निगम के टोल फ्री नं.- 180001802877, व्हाटसएप नं.- 9415049606 एवं ट््विटर पर पर किसी ढ़ाबे पर मिलने वाली अनियमितताओं की शिकायत दर्ज करा सकते है, जिससे परिवहन निगम का सुधारात्मक कार्यवाही करने में मदद मिलेगी एवं व्यवस्था में सुधार लाया जा सकेगा।

Popular posts
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image
वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों में अब तक हुआ 5 लाख से ज्यादा लोगों का आधार नामांकन व संशोधन : पीएमजी केके यादव
Image
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की पूर्व संध्या पर साइनटेनमेन्ट शो
Image