निर्माण कार्य धरातल पर नजर आये : केशव मौर्य

लखनऊ, 13 नवम्बर। उप्र के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि पुलों, सड़कों, आरओबी व रिंग रोड आदि के कार्य सभी सम्बन्धित अधिकारी आपसी समन्वय व तारतम्य बनाकर निर्धारित समय सीमा के अन्दर पूर्ण करें। उन्होने कहा कि कहीं भी संवादहीनता की स्थिति नहीं आनी चाहिए। उन्होने जोर देते हुए कहा कि कार्य धरातल पर नजर आने चाहिए ताकि सरकार की छवि निखर कर सामने आये।


केशव प्रसाद मौर्य आज यहाॅ तथागत सभागार, लोक निर्माण विभाग में लखनऊ लोकसभा क्षेत्र के विकास कार्यों के सम्बन्ध में आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उपमुख्यमंत्री ने एनएचएआई द्वारा लखनऊ में बनाए जा रहे रिंग रोड की प्रगति की जानकारी हासिल करते हुए कहा कि लखनऊ व बाराबंकी का जिला प्रशासन, पशुपालन, विद्युत विभाग, लोक निर्माण विभाग सहित सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारी समन्वय बनाकर कार्य करें और कहीं कोई समस्या आ रही हो तो उसका समाधान करते हुये निर्धारित समय-सीमा में कार्य पूर्ण करायें तथा सभी विभाग पर्यावरण के अनुकूलता के लिये कार्य करें।
श्री मौर्य ने निर्देश दिये कि कार्यों के सम्बन्ध में समय से व सही रिपोर्ट प्रस्तुत की जाय। कुकरैल नाले के तटबन्ध पर 06 लेन मार्ग के निर्माण की समीक्षा के दौरान प्रकाश में आया कि यह कार्य 9453.16 लाख ₹ की लागत से कराया जा रहा है, जो लगभग पूर्ण होने की स्थिति में है। इस सम्बन्ध में लोक निर्माण विभाग इकाई-1 के अधिशासी अभियन्ता द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट और वास्तविक स्थिति में भिन्नता पाये जाने पर अधिशासी अभियन्ता को उपमुख्यमंत्री की नाराजगी का सामना करना पड़ा। उन्होने इस मार्ग पर रैलिंग का सम्पूर्ण कार्य तत्काल पूर्ण कराने के निर्देश दिये।
इसी मार्ग के बारे में बताया गया कि फैजाबाद मार्ग पर मिलने वाले भाग पर पिचिंग का कार्य पूर्ण हो गया है। रिंग रोड कुकरैल नाले पर मार्ग के इण्टरसेक्शन के डिजाइन एवं निर्माण के बारे में बताया गया कि 20 नवम्बर 2019 को सीआरआरआई द्वारा भ्रमण किया जायेगा। शारदा कैनाल के दोनों ओर फैजाबाद मार्ग से सुल्तानपुर मार्ग के मध्य 3-3 लेन मार्ग के निर्माण के बारे में बताया गया कि 90 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो गया है। सीमैप इन्स्टीट्यूट के पास निर्मित पुलिया के चैड़ीकरण के कार्य के बारे में बताया कि कि यह कार्य 31 दिसम्बर तक पूर्ण हो जायेगा। इस कार्य की पुनरीक्षित लागत 262.11 लाख ₹ है तथा महानगर-फरीदनगर मार्ग के चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कार्य भी 30 नवम्बर तक पूर्ण हो जायेगा।
 बैठक में सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा बताया गया कि खुर्रमनगर चैराहे से विकास नगर रहीमनगर मार्ग के चैड़ीकरण हेतु लोक निर्माण विभाग द्वारा धनराशि नगर निगम को दे दी गयी है तथा नगर निगम द्वारा अतिक्रमण हटाने का कार्य किया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि यह कार्य 31 दिसम्बर तक में पूर्ण करायें। शहीदपथ से एयर पोर्ट तक जाने वाले एलीवेटेड रोड के बारे मेंं बताया गया कि इस हेतु भूमि अध्याप्ति का प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है।
लखनऊ में निर्माणाधीन सेतुओं की समीक्षा में बताया गया कि हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी मोड़ तक 02 लेन उपरिगामी सेतु का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। इस सम्बन्ध में अतिक्रमण की समस्या बतायी गयी, जिसे जिलाधिकारी, लखनऊ द्वारा 15 से 30 नवम्बर तक हटवा देने का आश्वासन दिया गया।


लखनऊ में गुरू गोविन्द सिंह मार्ग पर हुसैनगंज चैराहा-बांसमण्डी चैराहा नाका हिन्डोला चैराहा-डी0ए0वी0 काॅलेज के मध्य 03 लेन फ्लाई ओवर के निर्माण के बारे में प्रबन्ध निदेशक उ0प्र0 सेतु श्री पी0के0 कटियार ने बताया कि इसे मार्च 2020 तक पूर्ण करा देंगे। विद्युत लाइन शिफ्ट होना है जिसे विद्युत विभाग के अधिकारी करायेंगे।
चरक चैराहा हैदरगंज-चरक क्रासिंग-विक्रम काॅटन मिल रोड के मध्य दो लेन फ्लाई ओवर ब्रिज के निर्माण कार्य की समीक्षा में श्री मौर्य ने निर्देश दिये कि अतिक्रमण हटाने व विद्युत लाइन शिफ्ट करने के बारे में कल ही जिलाधिकारी लखनऊ के साथ बैठक करके समाधान करना सुनिश्चित किया जाय। शहीद पथ से लखनऊ एयरपोर्ट को जोड़ने वाले वैकल्पिक मार्ग के एलाइनमेन्ट में एलीवेटेड फ्लाई ओवर के निर्माण कार्य को सितम्बर 2020 तक पूर्ण करने के निर्देश दिये।
जनपद लखनऊ में उत्तर रेलवे के लखनऊ बाराबंकी रेलवे लाइन किसान पथ (फैजाबाद रोड से मोहनलालगंज रोड तक) पोल संख्या 1078/12 - 1078/2 के मुख्य शारदा नहर के किमी0 147.405 के बांयी एवं दांयी पटरी पर 04 लेन रेल सेतु की समीक्षा में रेलवे के अधिकारियों उपमुख्यमंत्री ने निर्देशित किया कि वह सर्वोच्च प्राथमिकता पर कार्य करें और कार्यों की गति बढ़ायी जाय तथा अप्रैल 2020 तक अपना कार्य पूर्ण करें।


बैठक में प्रमुख सचिव, लोनिवि नितिन रमेश गोकर्ण, जिलाधिकारी लखनऊ अभिषेक प्रकाश, जिलाधिकारी बाराबंकी आदर्श सिंह, एमडी जलनिगम विकास गोठलवाल, मुख्य विकास अधिकारी, लखनऊ मनीष बंसल, आरसी बर्नवाल, प्रमुख अभियन्ता (विकास) एवं विभागाध्यक्ष, लोनिवि, प्रमुख अभियन्ता आरआर सिंह एवं एसके सिंह, निर्माण निगम के प्रबन्ध निदेशक यूके गहलोत, सेतु निगम के प्रबन्ध निदेशक पीके0श कटियार, मुख्य अभियन्ता(मु0-1) संजय गोयल, सांसद प्रतिनिधि केपी सिंह, दिवाकर त्रिपाठी सहित लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम, अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।


Popular posts
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
इण्डो-नेपाल बार्डर मार्ग निर्माण परियोजना के अंतर्गत भूमि अध्याप्ती को 15 करोड़ रू. आवंटित
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
पूर्वांचल विकास निधि से मिर्जापुर व बलिया के 4 मार्गों के निर्माण को धनराशि आवंटित
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image