नैनी में स्थापित जीईटी एन्ड डी इंडिया लिमिटेड कम्पनी अब चल पड़ेगी
लखनऊ, 13 नवम्बर। प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना की अध्यक्षता में आज यहां प्रयागराज के नैनी स्थित जी. ई. टी. एडं डी. इंडिया लिमिटेड कंपनी के बंद होने के संबंध में कर्मचारी संघ एवं प्रबंधन के साथ सांसद रीता बहुगुणा जोशी के अगुवाई में औद्योगिक विकास मंत्री के कार्यालय कक्ष में बैठक हुई।

बैठक के दौरान कर्मचारी संघ द्वारा अपने पक्ष को रखा गया। कर्मचारी संघ का कहना है कि कंपनी को बंद ना होने दिया जाए। जी. ई. कंपनी इस यूनिट को चलाएं या किसी अच्छी कंपनी में विलय करा दें। जिससे कर्मचारियों को बेरोजगार होने से और औद्योगिक क्षति के साथ-साथ क्षेत्र के विकास को प्रभावित होने से रोका जा सके। जिस पर प्रबंधन पक्ष ने कंपनी को अच्छी कंपनी में विलय करने की बात को स्वीकार किया और औद्योगिक मंत्री के समक्ष अगले 45 दिन का समय मांगते हुए आश्वासन दिया कि हम अच्छी कंपनी का नाम लेकर आएंगे। बायर के आने की प्रक्रिया संपन्न होने पर अंत में कर्मचारी संघ से बात किया जाएगा। यह आश्वासन कंट्री एचआर हेड अमरेश सिंह ने दिया। जिस पर कर्मचारी संघ ने अपनी सहमति जताई। वार्ता के दौरान मंत्री द्वारा अच्छी कंपनी में विलय कराने की बात कही जिससे कि यूनिट को और अच्छी तरीके से चलाया जाए। साथ में यह भी कहा गया कि आप कोई ऐसी कंपनी ना लेकर आए जो कि यूनिट को चलाने में सक्षम ना हो। जिस पर प्रबंधन की तरफ से आश्वासन दिया गया कि हम अच्छी कंपनी ही लेकर आएंगे। तब तक कंपनी में यथास्थिति बहाल करने की बात स्वीकार किया गया है।

बैठक में सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने यह बात भी रखी कि प्रयागराज में 400 एकड़ जमीन आज भी खाली पड़ी है, जिस पर नए उद्योगों को लगाया जा सकता है। उन्होंने औद्योगिक मंत्री के समक्ष यह प्रस्ताव रखा कि नैनी क्षेत्र के उद्योग को बढ़ाने के लिए हर संभव मदद किया जाए। नैनी के बंद हुए उद्योगों को पुनः चलाने की बात कही और यह भी कहा गया कि उद्योगों को पुनः चलाने में ज्यादा इन्वेस्ट करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आसानी से पुनः चालू किया जा सकता है। इस पर औद्योगिक मंत्री इस पर आगे वार्ता करने का आश्वासन दिया। वार्ता में और भी बिंदुओं पर चर्चा हुई जिससे कि नैनी के उद्योगों को बढ़ावा मिल सके।

वार्ता में औद्योगिक विकास विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार, अधिशासी निदेशक उद्योग बन्धु, कर्मचारी संघ की ओर से सुभाष चंद्र भारती, अध्यक्ष अनिल कुमार, संयुक्त मंत्री प्रताप नारायण मंगलम, उपाध्यक्ष आलोक तिवारी एवं रामकृष्ण पांडे, कंट्री एचआर हेड अमरेश सिंह, यूनिट एचआर हेड सुरोजित मुखर्जी, यूनिट हेड अजय जैन, कॉर्पोरेट ऑफिस से मिस्टर ग्लैंन डिसूजा उपस्थित थे।

Popular posts
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image
वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों में अब तक हुआ 5 लाख से ज्यादा लोगों का आधार नामांकन व संशोधन : पीएमजी केके यादव
Image
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की पूर्व संध्या पर साइनटेनमेन्ट शो
Image