जनप्रतिनिधि सिल्ट सफाई के कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण कर अपने सुझाव दें : मंत्री
लखनऊ। उप्र के जलशक्ति मंत्री डाॅ. महेन्द्र सिंह ने सभी सम्मानित जनप्रतिनिधियों से अनुरोध किया है कि वे अपने क्षेत्रों में सिंचाई विभाग द्वारा कराये जा रहे नहरों की सिल्ट सफाई अभियान का पूर्ण रूप से निगरानी रखते हुए औचक निरीक्षण कर अपने मूल्यवान सुझावों को विभाग से साझा करें। जलशक्ति मंत्री ने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा दिये गये सुझावों से सिल्ट सफाई कार्यों को और अधिक पारदर्शी एवं जनोन्मुखी बनाने में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि सिंचाई विभाग के अधिकारियों को सख्त हिदायत दी है कि सिल्ट सफाई कार्यों का शुभारम्भ सांसद, विधायक/जनप्रतिनिधियों से करायें तथा कार्य के पहले एवं कार्य के उपरान्त फोटो/वीडियो मुख्यालय तथा शासन को अवश्य प्रस्तुत करें।

जलशक्ति मंत्री डाॅ. महेन्द्र सिंह ने अधिकारियों से अपेक्षा की है कि योगी सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों एवं योजनाओं का लाभ समाज के आखिरी पायदान पर बैठे व्यक्ति तक पहुंचाने में अपनी अहम भूमिका निभायेंगे। जलशक्ति मंत्री ने कहा कि विभागीय अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये हैं कि सिल्ट सफाई का सघन सत्यापन अन्य विभागीय संगठन के नामित उच्च अधिकारियों की टीम से कराया जाये तथा पूर्ण भुगतान तभी किया जाये जब टेल तक पानी पहुंचने की निरीक्षण आख्या प्रापत हो। उन्होंने कहा कि प्रत्येक किसान के अन्तिम खेत तक समय से पानी पहुँंचाकर उनकी आमदनी दोगुनी करना ही प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

Popular posts
कोरोना : "विनय न मानत जलधि जड़ गए तीनि दिन बीति। बोले राम सकोप तब भय बिनु होइ न प्रीति॥"
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
इण्डो-नेपाल बार्डर मार्ग निर्माण परियोजना के अंतर्गत भूमि अध्याप्ती को 15 करोड़ रू. आवंटित
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image