अभिंयता निर्माणाधीन परियोजनाओं का लगातार निरीक्षण करें : केशव मौर्य

लखनऊ। उप्र के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि उप्र सरकार द्वारा गरीबों, दलितों व वंचितों के आर्थिक सामाजिक व शैक्षिक उत्थान के लिए चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी व ग्रामोंन्मुखी योजनाओं का भरपूर लाभ पात्र लोगों को दिलाने हेतु हर सम्भव प्रयास किये जांय। उन्होने कहा कि योजनाओं को लाभ वास्तविक पात्र लोगों को मिलना ही चाहिए। श्री मौर्य ने कहा कि योजनाओं का क्रियान्वयन पूरी पारदर्शिता व इमानदारी के साथ किया जाय। किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए। उन्होने कहा कि सबका-साथ सबका-विकास व सबका-विश्वास के मूल मंत्र के साथ प्रदेश का समन्वित व समग्र विकास करना सरकार का लक्ष्य और उद्देश्य है।
श्री केशव प्रसाद मौर्य आज जनपद बरेली में लोक निर्माण विभाग व सेतु निगम की विभिन्न परियोजनाओं व लोकार्पण के उपरान्त आयोजित जनसभा को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित कर रहे थे।उन्होने बरेली के सर्किट हाउस में बरेली क्षेत्र के चहुंमुखी विकास हेतु लगभग 50 करोड़ की 37 परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास किया। पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन को बढ़ावा देने की अपील करते हुये कहा कि अधिक से अधिक वृक्षारोपण किया जाय। उन्होने सर्किट हाउस परिसर में वृक्षारोपण भी किया।
उपमुख्यमंत्री ने बरेली में निर्माणाधीन लाल घाटक रेल उपरिगामी सेतु का सघन व औचक निरीक्षण किया तथा सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उपमुख्यमंत्री ने बुधवार की रात बदायुं रोड गंगानगर बरेली के रामगंगा अस्पताल परिसर में खुशहाली फाउन्डेशन के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में बच्चों को वस्त्र वितरित किये तथा गरीब बच्चों को चिकित्सा सेवा प्रदान करने वाले चिकित्सक को सम्मानित भी किया।
आज, आंवला, के सांसद धर्मेन्द्र कश्यप के आवास पर आयोजित अभिनन्दन समारोह को उपमुख्यमंत्री ने सम्बोधित किया। इस दौरान उप्र के निवर्तमान वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल विधायक अरूण कुमार सहित जनप्रतिनिधि अधिकारी व गणमान्य लोगों के अलावा भारी संख्या मं क्षेत्रीय लोग मौजूद रहे।


Popular posts
कोरोना : "विनय न मानत जलधि जड़ गए तीनि दिन बीति। बोले राम सकोप तब भय बिनु होइ न प्रीति॥"
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
इण्डो-नेपाल बार्डर मार्ग निर्माण परियोजना के अंतर्गत भूमि अध्याप्ती को 15 करोड़ रू. आवंटित
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image