गांव के विकास की गाथा लिख रही योगी सरकार : डाॅ. चन्द्रमोहन

- गांव के विकास की अभूतपूर्व गाथा लिख रही योगी सरकार : डाॅ. चन्द्रमोहन

 



लखनऊ, 2 सितम्बर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डा. चन्द्रमोहन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सूत्र वाक्य सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास का लक्ष्य लेकर उत्तर प्रदेश में सतत विकास की अवधारणा पूरी करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चल रही प्रदेश सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। यह पहली बार है कि अब गांव में रहने वाले हर नागरिक तक विकास की किरण पहुचाई गई है। गांव में घर-घर तक बिजली पहुंचाकर यूपी को देश में अग्रणी बनाने वाली प्रदेश सरकार अब हर गांव तक सड़क पहुंचाने के लिए कमर कस चुकी है।
प्रदेश प्रवक्ता डाॅ. चन्द्रमोहन ने कहा कि इस योजना के जरिए अब प्रदेश का हर गांव विकास के पथ पर तेजी से दौड़ सकेगा। केवल इतना ही नहीं प्रदेश सरकार ने ग्रामीण अवस्थापना निधि फेज-25 के लिए 23 सौ करोड़ ₹ से अधिक की परियोजनाओं को मंजूरी दी है। इसमें बाढ़ नियंत्रण, नलकूप स्थापना, सड़क तथा पशु चिकित्सालय जैसी योजनाओं के जरिए ग्रामीण क्षेत्रों के विकास में चार चांद लगाए जाएंगे। प्रदेश में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 1260 ग्राम पंचायतों का चयन किया गया है। इन गांवों में तीव्र विकास के लिए बकायदा मानक तय किए हैं, और उन मानकों के हिसाब से संबंधित ग्राम पंचायत में जो कमियां होंगी उन्हें दूर करने के लिए प्रयास किया जाएगा।
प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि इन विकास कार्यों से लैस होकर यूपी के गांव राष्ट्रीय स्तर पर अपनी अलग पहचान स्थापित करेंगे। इससे न केवल शहरी और ग्रामीण इलाकों के बीच विकास की बराबरी होगी बल्कि बड़ी संख्या में रोजगार के अवसरों का भी निर्माण होगा। प्रदेश में जल शक्ति विभाग का गठन करके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्रामीण इलाकों में प्राथमिकता के तौर पर पीने और सिंचाई के लिए पानी के प्रबंध के लिए अपनी सरकार की मंशा स्पष्ट कर दी है। अब वह दिन दूर नहीं जब यूपी के गांव विश्व में अपनी अगल छाप छोड़ेंगे और इस अभियान की शुरुआत हो चुकी है।




Popular posts
कोरोना : "विनय न मानत जलधि जड़ गए तीनि दिन बीति। बोले राम सकोप तब भय बिनु होइ न प्रीति॥"
Image
डाबर का शुद्ध गाय घी के साथ घी श्रेणी में प्रवेश
इण्डो-नेपाल बार्डर मार्ग निर्माण परियोजना के अंतर्गत भूमि अध्याप्ती को 15 करोड़ रू. आवंटित
राष्ट्रीय स्वाभिमान, शक्ति, स्वाधीनता और संपन्नता के प्रतीक थे महाराणा प्रताप और राजा छत्रसाल : स्वामी मुरारीदास
Image
उप्र सरकार भर्तियों के नाम पर नौजवानों से कर रही है लूट : वंशराज दुबे
Image